एंटीवायरस क्या है? और कैसे काम करता है एंटीवायरस

एंटीवायरस एक कंप्यूटर सॉफ्टवेयर प्रोग्राम (कोड) है जो हमारे कंप्यूटर या लैपटॉप को हानिकारक वायरस से बचाता है। एंटीवायरस कंप्यूटर में मौजूद हर फाइल को स्कैन करता है और वायरस को ढूंढ कर खत्म कर देता है।

कई प्रकार से हानिकारक वायरस कंप्यूटर में प्रवेश कर जाते हैं जैसे ईमेल, विज्ञापन, इंटरनेट सर्फिंग, डेटा शेयरिंग आदि तरह से जो कंप्यूटर को नुकसान पहुंचाते हैं, आपका व्यक्तिगत डेटा चुराते हैं, महत्वपूर्ण फाइलों को हटा देते हैं।

एंटीवायरस कंप्यूटर में प्रवेश करने वाले सभी वायरस का पता लगाने और हटाने में सक्षम है।

एंटीवायरस हमारे कंप्यूटर सिस्टम की कई तरह से सुरक्षा करता है। यह एक सेफगार्ड के रूप में कार्य करता है और मैलवेयर जैसे कंप्यूटर वर्म्स, ट्रोजन हॉर्स जैसे वायरस से बचाता है।

इसलिए आज के समय में लगभग सभी लोग एंटीवायरस का इस्तेमाल करते हैं। पर्सनल कंप्यूटर में एंटीवायरस होना बहुत जरूरी है।

कैसे काम करता है एंटीवायरस - एक एंटीवायरस नेटवर्क के माध्यम से कंप्यूटर में आने वाली सभी फाइलों और कोड को स्कैन करता है।

सॉफ़्टवेयर निर्माता कंपनियां पहले से ही ज्ञात वायरस और मैलवेयर का एक डेटाबेस संकलित करते हैं और एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर को उनका पता लगाना, फ़्लैग करना और उन्हें हटाना सिखाते हैं।

जब आप कंप्यूटर से फाइल भेजते या प्राप्त करते हैं, तो एंटीवायरस वायरस को खोजने के लिए फाइलों को स्कैन करता है और उनकी तुलना अपने डेटाबेस से करता है। एंटीवायरस डेटाबेस से समान मिली फ़ाइलों को स्कैन करके डिलीट कर देता है।