कृष्ण जन्माष्टमी पर क्या करें और क्या नहीं

श्री कृष्ण जन्माष्टमी के व्रत को रखने वाले को भूलकर भी तामसिक चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। 

श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पर्व पर भूलकर भी किसी के प्रति गलत विचार नहीं लाना चाहिए और न ही किसी भी व्यक्ति को अपशब्द कहना चाहिए। 

श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पर्व पर न तो तुलसी की पत्तियां तोड़नी चाहिए और न ही किसी पेड़-पौधे को काटना चाहिए। 

जन्माष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण की पूजा करते समय उन्हें उनकी प्रिय चीजें जैसे मोरपंख, गाय के दूध से बनी खीर, पंचामृत, मिठाई, मक्खन आदि अवश्य चढ़ाएं।

जन्माष्टमी के पावन पर्व पर पूजा करते समय शंख का प्रयोग जरूर करें और इसी के माध्यम से अपने लड्डू गोपाल को स्नान कराएं। 

जन्माष्टमी के पावन पर्व पर लड्डू गोपाल की पूजा करने के बाद अपनी मनोकामना को मन में कहते हुए झूला जरूर झुलाएं।