लक्ष्मी जी को रोकते है ये काम, गलती से भी न करे ये गलतियां

खुद को और घर में साफ-सफाई रखें - चाणक्य नीति के मुताबिक मनुष्य को खुद को हमेशा स्वच्छ रखना चाहिए।

इसके अलावा अपना घर भी हमेशा स्वच्छ रखना चाहिए। साथ ही अपने घर के बाहर भी हमेशा साफ-सफाई रखनी चाहिए।

पौराणिक मान्यता है कि स्वच्छता वाली जगह पर ही मां लक्ष्मी का वास होता है। यदि आपके आसपास गंदगी रहती है तो कभी भी ऐसे स्थान पर लक्ष्मी जी का वास नहीं होता है।

फिजूलखर्ची करने से बचें - व्यक्ति को हमेशा सोच-समझकर ही व्यय करना चाहिए। फिजूलखर्ची करने से बचना चाहिए। 

बिना सोचे-समझे व्यय करने से लक्ष्मी जी नाराज होती है। धन का अपव्यय करने वाले लोगों के पास देवी लक्ष्मी का वास कभी नहीं रहता है।

यदि आप रईस बनना चाहते हैं तो सोच-समझकर ही पैसा खर्च करना चाहिए।

बुरी संगत से हमेशा दूर रहें - अगर आप मां लक्ष्मी की कृपा पाना चाहते हैं तो गलत संगत से दूरी बनाकर रखें। चाणक्य नीति में बताया गया है कि बुरी संगत में पड़ने पर इंसान विनाश की ओर जाता है और जीवन में हमेशा नकारात्मक घटनाएं होती है।

परिवार में अशांति रहती है। जिस परिवार में अशांति रहती है, वहां देवी लक्ष्मी कभी भी वास नहीं करती है।

आचार्य चाणक्य ने कहा है कि लालच के कारण मनुष्य में रिश्तों के प्रति लगाव खत्म हो जाता है। लालच में पड़कर लोग कई बार रिश्तों के महत्व को भी भूल जाते हैं।

ऐसे लोगों से मां लक्ष्मी कभी प्रसन्न नहीं होती। लोभ से बचना चाहिए और दान करने से मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।

ज्यादा अहंकार न करें - किसी भी व्यक्ति में अहंकार उसके व्यक्तित्व के लिए बहुत घातक साबित होता है। चाणक्य के मुताबिक अहंकार की वजह से अनजाने में कई दुश्मन बन जाते हैं।

अहंकार से हमेशा दूर रहना चाहिए। मां लक्ष्मी को विनम्र और मीठी वाणी के लोग ही पसंद आते हैं।