धन आने पर ये 3 गलतियां नष्ट कर देती है पूंजी

व्यक्ति पैसा कमाने के लिए कई जतन करता है, लेकिन जब उसके पास पैसा आ जाता है तो वो अपने बुरे दिन भूल जाता है।  ऐसा करने पर लाख कोशिशों के बाद कमाया धन नष्ट हो जाता है। 

चाणक्य के अनुसार पैसों का घमंड न सिर्फ मां लक्ष्मी को नाराज करता है बल्कि अच्छे रिश्तों में भी दरार ला देता है। 

अहंकार व्यक्ति की बुद्धि भ्रष्ट कर देता है और सारा धन का नाश हो जाता है। 

चाणक्य के अनुसार बेहिसाब खर्च करने वालों के घर मां लक्ष्मी का वास नहीं होता।  धन कमाया तो खर्च जरूर होगा लेकिन अनावश्यक खर्चा करने पर धन लक्ष्मी का अपमान माना जाता है। 

जो पैसों की कद्र नहीं करता उसके हाथ में कभी पैसा नहीं टिकता,और वो कर्ज का भागीदार बन जाता है, क्योंकि ऐसे व्यक्ति के पास मां लक्ष्मी लौटकर नहीं आती। 

लालच बुरी बला है, धन के मामले में लालच व्यक्ति को कंगाल बना देता है। 

बिना मेहनत के कमाया धन ज्यादा दिन तक नहीं टिकता, ऐसा पैसा व्यक्ति को पलभर की खुशी तो देगा लेकिन भविष्य में यहीं धन दुख का कारण बन जाएगा। 

लक्ष्मी को बहुत चंचल माना है, पैसों का सही उपयोग और सही तरीके से कमाई सदा साथ देती है।  वहीं लालच करने वालों को लक्ष्मीजी की कृपा नहीं मिलती है।