इन 4 चीजों को अपनाने में कभी संकोच न करें, चमका सकता हैं आपका भविष्य

व्यक्ति को अमृत से भी जहर निकाल लेना चाहिए यानी कि बुराई में भी अच्छाई ढ़ंढने का प्रयास करें। 

इससे आपकी सोच में सकारात्मकता आएगी और हर परिस्थिति से लड़ने की क्षमता बढ़ेगी। 

चाणक्य कहते हैं कि सोना अगर गंदगी में भी पड़ा हो तो उसे उठाने में कतई ना हिचकें। 

सोना की चमक सदा बरकरार रहती है इसे साफ कर दोबारा उपयोग में ले सकते हैं। 

एक गुणी कन्या का सदा सम्मान करें।  दुष्ट परिवार में जन्मी कन्या की परिस्थिति नहीं उसके गुण देखना चाहिए। 

ऐसे कन्या को अपनाने में कोई दोष नहीं।  कोई भी इंसान परफेक्ट नहीं होता।  बेहतर होगा उसमें बुराईंया ढ़ूंढ़ने की बजाय अच्छाईंया खोजें। 

अपनी संतान को सदा श्रेष्ठ शिक्षा दें।  मित्रों को धर्म कर्म के कार्य करने के लिए प्रेरित करे। 

ऐसा करने वालों को सफलता जरूर मिलती है।