किसी भी क्षेत्र में चाहते हैं तरक्की, तो जरूर मानें आचार्य की ये बातें

पैसे की इज्जत करें - आचार्य चाणक्य के अनुसार व्यक्ति को धन की इज्जत करनी चाहिए। धन जीवन में हर सुख देता है।

व्यक्ति जितनी ज्यादा कमाई करता है उससे ज्यादा उसे बचाने की जरूरत है। बचत ही आपको भविष्य की योजनाओं में मदद करेगी।

किसी भी व्यक्ति से अपेक्षा न रखें  - चाणक्य नीति के अनुसार किसी अन्य व्यक्ति से अपेक्षा न करें।किसी भी व्यक्ति से अपेक्षा न रखें  - चाणक्य नीति के अनुसार किसी अन्य व्यक्ति से अपेक्षा न करें।

यदि व्यक्ति किसी से अपेक्षा नहीं रखते हैं तो उनको सफल होने से रोक नहीं कर सकते हैं।

कान के कच्चे न बनें - व्यक्ति को कान का कच्चा नहीं होना चाहिए। कान का कच्चा होने का अर्थ है कि उन्हें किसी की भी बातों में नहीं आना चाहिए।

आचार्य चाणक्य के अनुसार अगर कोई आपसे आकर ये कहते है कि कोई आपका खास मित्र आपकी बुराई कर रहा था तो उनकी बात पर कभी यकीन न करें।

ऐसे लोग अक्सर रिश्तों में दरार डालने का प्रयास करते हैं।

अपनी कमजोरी किसी को न बताएं  - आचार्य चाणक्य के अनुसार किसी भी व्यक्ति को अपनी कमजोरी किसी को नहीं बतानी चाहिए। 

किसी को आपकी कमजोरी पता चल जाती है तो वो उसका फायदा उठा सकता है, फिर वो फायदा उठाने वाला उसका मित्र भी हो सकता है।